UCO Bank

आयातकों को वित्त/सेवाएं

क) आयात बिलों का संग्रहः

यूको बैंक ने दुनिया भर के प्रतिष्ठित अंतर्राष्ट्रीय बैंकों के साथ कारोबारी संबंध स्थापित किया है और वह ऐसे आयातकों को बहूमूल्य सेवाएं प्रदान कर जो विश्व के किसी भी हिस्से से आयात कर रहे हों। हमारी प्राधिकृत विदेशी मुद्रा शाखाओं द्वारा एकदम प्रतिस्पर्धी दरों पर आयात बिल संग्रहीत किए जाते हैं। अन्य शाखाओं के ग्राहकों के लिए लिखे गए आयात बिलों का भी इन शाखाओं में संग्रहण किया जाता है।

ख) साख पत्रः

दशकों से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में अपनी उपस्थिति के चलते, यूको बैंक ने खुद को एक प्रसिद्ध अंतर्राष्ट्रीय बैंक के रूप में स्थापित किया है। यूको के एल/सी (साख पत्र) अंतर्राष्ट्रीय बाजार में अच्छी तरह स्वीकार किए जाते हैं। यूको बैंक किसी भी खास आवश्यकता हेतु शीर्ष अंतर्राष्ट्रीय बैकों द्वारा एल/सी की पुष्टिकृत प्राप्त कर सकता है।

इस प्रकार, वस्तुओं/ सेवाओं आदि की खरीद हेतु यूको बैंक की एल/सी सुविधा एक विश्वसनीय आपूर्ति व्यवस्था हेतु सभी आयातकों की आवश्यकताएं को पूरी करती है। यूको बैंक फेमा (FEMA) और भारत सरकार की एक्जिम (EXIM ) नीति के दायरे में भारत में आयातकों को यह सुविधा प्रदान करता है। यूको बैंक एल/सी पारेषित करने के लिए अत्याधुनिक स्विफ्ट नेटवर्क का उपयोग दुनिया भर में मओजूद प्रतिनिधियों के नेटवर्क और हमारी विदेशी शाखाओं के जरिए साथ आयातकों को शीध्र और कुशल सेवाएं देता है।

बैंक के ऋण एक्सपोजर मानदंड़ों की संतुष्टि करने पर आयातकों को एल/सी की सुविधा दी जाती है।

ग) आयात के वित्तपोषण

मीयादी एल/सी सुविधा

यूको की मीयादी( Usance) एल/सी सुविधा आयातक को उनके आपूर्तिकर्ता/ आपूर्तिकर्ता के बैंक से क्रेडिट लाभ लेने का अवसर प्रदान करती है।

आस्थगित भुगतान/ एवजी एलसी

यूको की डिफर्ड पेमेंट गारंटी/ एवजी स्टैंडबाय एलसी सुविधा भी आयातक को उनके आपूर्तिकर्ता/ आपूर्तिकर्ता के बैंक से क्रेडिट लाभ लेने का अवसर प्रदान करती है।

रुपया फाईनांस

यूको बैंक बैंक की क्रेडिट एक्सपोजर शर्तों को संतुष्ट करने पर रुपया ऋण सुविधा के तहत अपनी विविध भारतीय आयातकों को विदेशों से आयातित वस्तुओं और सेवाओं के भुगतान के लिए रुपये फाईनांस सुविधा की भी पेशकश करता है।

विदेशी मुद्रा ऋण

भारत में आनेवाले आयातों के लिए भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा दी गई अनुमति के अनुसार तीन वर्षों से कम समय के लिए अल्पकालिक बाह्य वाणिज्यिक उधार अथवा बहुत ही प्रतिस्पर्धी दरों पर हमारी वेदेशी शाखाओं द्वारा भारतीय आयातकों को दिया जाता है। ये आम तौर पर आयातक के बैंक द्वारा खोले जानेवाले एल/सी द्वारा समर्थित होते हैं। भारतीय आयातक हमारी विदेशी शाखाओं से भी इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं, जो कि हमारी विदेशी शाखाओँ के पक्ष में एल / सी विस्तृत करने पर सहमत उनके बैंक पर रोल-ओवर क्रेडिट के रूप में होगा ।

यूको, आयातक घटकों अथवा अन्य ग्राहकों की ओर से विदेशों में हितधारकों के पक्ष में गारंटी देता है। गारंटी निष्पादन तथा वित्तीय दोनो तरह की हो सकती ।

top

यूको में नया-नया :
यूको बैंक ने ऐसे व्यक्तियों को ऋण सुविधा प्रदान करने के लिए यूको कौशल ऋण योजना शुरू की है, जो कौशल विकास पाठ्यक्रमों को शुरू करना चाहते हैं। | अखंडता वचन - सीवीसी पहल | प्रतिभूति बाजार में कारोबार करते समय केवाईसी एक बार की जानी वाली प्रक्रिया है - सेबी द्वारा पंजीकृत मध्यस्थ (दलाल, डीपी, म्युचुअल फंड आदि) द्वारा एक बार केवाईसी की प्रक्रिया पूरी होने के पश्चात, जब आप अन्य मध्यस्थ से संपर्क करते है तो आपको पुनः इस प्रक्रिया से नहीं गुजरना होगा। | बंद करें - अपने डीमैट खाते से अनधिकृत लेदेन पर रोक लगाने के लिए - अपने निक्षेपागार (डिपोजिटरी)सहभागी के साथ अपनी मोबाइल नम्बर को अद्यतन करें । डीमैट खाते से होनेवाले सभी नामे एवं अन्य महत्वपूर्ण लेन देन की अलर्ट अपने पंजीकृत मोबाइल पर उसी दिन सीधे एनएसडीएल से प्राप्त करें । (निवेशकर्ता के हित में जारी ) | बंद करें - आईपीओ को सब्स्क्राईब करते समय निवेशकर्ता को चेक जारी करने की आवश्यकता नहीं है । आवंटन की स्थिति में भुगतान करने के लिए अपने बैंक को अधिकृत करने हेतु केवल आवेदन फार्म में खाता संख्या लिख कर हस्ताक्षर करें । चूंकी रकम निवेशक के खाते में ही रहती है अतः रकम वापसी के चिंता की कोई बात नहीं है। |
© 2016 सर्वाधिकार सुरक्षित